नई दिल्ली
दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने रविवार को भाजपा पर गंभीर आरोप लगाया। उसने कहा कि कोरोना की जो वैक्‍सीन राज्‍यों को दी जानी थीं, वे शायद प्राइवेट अस्‍पतालों को भेजी जा रही हैं। ऐसा करने के पीछे कारण भाजपा के विधायकों को मोटे कमीशन से अपनी जेब भरने का मौका देना है।

भाजपा की दिल्ली इकाई ने इस पर पलटवार किया। उसने कहा कि ऐसा लगता है कि आप नेता ‘अधिक कीमत वाले विदेशी टीका निर्माताओं के लिए अभियान चला रहे हैं’ और हर बार वैक्‍सीन की कमी का ‘रिकॉर्डेड बयान’ बजा रहे हैं। वहीं, सच यह है कि भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने आश्वस्त किया है कि अगले 10-15 दिन में आपूर्ति सामान्य हो जाएगी।

आप प्रवक्ता व विधायक आतिशी ने कहा कि भाजपा निजी अस्पतालों से ‘भारी कमीशन’ वसूल रही है। इसका सबूत कर्नाटक में सामने आया है। यह भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या और रवि सुब्रमण्य से जुड़ा है।

बता दें कि कांग्रेस ने शनिवार को सूर्या और उनके रिश्तेदार व कर्नाटक से विधायक रवि सुब्रमण्य पर वैक्‍सीन से पैसे बनाने का आरोप लगाया था। साथ ही उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की थी। कांग्रेस ने दोनों को सांसद और विधायक पद से हटाने की भी मांग की थी। हालांकि, भाजपा नेताओं ने इन आरोपों से इनकार किया था।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने सोशल मीडिया पर कथित लीक टेप के हवाले से आरोप लगाया था कि सुब्रमण्य ने कर्नाटक में निजी अस्पतालों से प्रति डोज 700 रुपये की रिश्वत ली।

आतिशी ने पकड़ा मुद्दा
आतिशी ने कहा कि कथित ‘कॉल रिकॉर्ड’ में निजी अस्पताल ने साफ तौर पर कहा कि वह महंगा टीका लगा रहा है क्योंकि विधायक कार्यालय को मोटी रकम कमीशन के रूप में देनी होती है।

आतिशी ने दावा किया कि इस संकट के समय में लोगों की जान की कीमत पर भाजपा ‘टीका घोटाले’ में शामिल है।

भाजपा ने किया पलटवार
वहीं, दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा कि बेशक कोविड-19 टीके की आपूर्ति में थोड़ी कमी आई है। हालांकि, भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने आश्वस्त किया है कि अगले 10-15 दिनों में आपूर्ति सामान्य हो जाएगी।

उन्होंने कहा, ‘निर्माताओं के बार-बार भरोसे के बावजूद यह समझ से परे है कि क्यों आतिशी जैसे आप नेता हर दिन टीके की कमी और विदेश में निर्मित टीके के आयात की अनुमति देने की जरूरत का रिकॉर्डेड बयान बजाते हैं। ऐसा लगता है कि वे अधिक कीमत वाले विदेशी टीका निर्माताओं के लिए अभियान चला रहे हैं।’

कपूर ने कहा, ‘आप नेता कहते हैं कि वे मुफ्त में टीका चाहते हैं, लेकिन वे अधिक कीमत वाले विदेशी टीके के आयात के लिए अभियान चला रहे हैं जिसे कोई भी सरकार मुफ्त में नहीं मुहैया करा सकती।’

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.