हाइलाइट्स

  • दिल्ली के प्राइवेट अस्पताल में लंबे समय से चल रहा था इलाज
  • महिला नेता को शाम 4.30 बजे सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा
  • मिंटो रोड और जंगपुरा विधानसभा क्षेत्र का कर चुकी थी प्रतिनिधित्व

नई दिल्ली
दिल्ली की आयरन लेडी के नाम से मशहूर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता ताजदार बाबर का शनिवार सुबह निधन हो गया। वह 85 साल की थीं। उनके पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि ताजदार ने आज सुबह करीब 5.30 बजे अंतिम सांस ली। वह लंबे समय से बीमार चल रही थीं। उन्हें कुछ दिनों पहले मालवीय नगर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

राहुल ने ट्वीट कर जताया दुख
पारिवार से जुड़े सूत्रों ने बताया कि लोगों के अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर निजामुद्दीन ईस्ट के सामुदायिक भवन में रखा गया है और शाम करीब 4.30 बजे में उन्हें सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके निधन पर दुख जताते हुए ट्वीट किया, ‘ताजदार बाबर जी के परिवार और मित्रों के प्रति मेरी संवेदना है। हम दिल्ली के लोगों और कांग्रेस के मूल्यों के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को याद करते हैं।’


1950के दशक में कश्मीर से आई थीं दिल्ली
बाबर अपनी शादी के बाद 1950 के दशक में कश्मीर से दिल्ली आई थीं। परिवार की शुरू से ही कांग्रेस के प्रति वफादार रहा। उन्होंने 1993, 1998 और 2003 में विधानसभा चुनाव जीतीं। जब इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थी, उस समय बाबर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष रहीं। बाबर के पति भी कांग्रेसी थे। वह ऑल इंडिया रेडियो के साथ काम करते थे।

tajdar

इंदिरा के कहने पर की थी राजनीति में वापसी
ताजदार बाबर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 1983 में अपने छोटे बेटे की मृत्यु के बाद उन्होंने लगभग राजनीति छोड़ दी थी। उन्होंने कहा था कि अगर इंदिरा जी (इंदिरा गांधी) ने मुझे अपना विचार बदलने के लिए मजबूर नहीं किया होता, तो मैं यहां आपसे बात नहीं कर पाती।

कांग्रेस की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा, ‘दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की पूर्व अध्यक्ष वरिष्ठ नेत्री ताजदार बाबर जी, जिन्हें हम प्यार से मम्मी संबोधित करते थे, आज हमारे बीच नहीं रही। मेरी ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे एवं अपने श्री चरणों में स्थान दे। विनम्र श्रद्धांजलि!’

उल्लेखनीय है कि ताजदार बाबर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष रहने के साथ ही मिंटो रोड और जंगपुरा विधानसभा क्षेत्रों से विधायक भी रहीं। वह लंबे समय तक नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद की उपाध्यक्ष भी रहीं। ताजदार के पुत्र फरहाद सूरी कांग्रेस के नेता हैं। एकीकृत निगम रहने के दौरान दिल्ली के महापौर भी रह चुके हैं।

tajdar babar indira gandhi

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.