विधानसभा
दिल्ली विधानसभा में पिछले दिनों केंद्र सरकार द्वारा विधानसभा और इसकी समितियों के अधिकारों को छीने जाने को लेकर चर्चा हुई थी। अब विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने कहा है कि समितियों के अधिकार छीने जाने के खिलाफ विधानसभा सुप्रीम कोर्ट में जाएगी।

विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली विधानसभा की समितियों और सरकार की शक्तियों को कम करने की कोशिशें की जा रही है और इसका कड़ा विरोध किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दाखिल की जाएगी। उन्होंने कहा कि विधानसभा समितियों के कामकाज में रुकावट डाली गई है और संविधान के खिलाफ जाकर समितियों की शक्तियों को कम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैं निर्वाचित विधायकों, विधानसभा के सदन और इसकी समितियों के अधिकारों का संरक्षक हूं और उन्हें यह देखकर बहुत दुख हो रहा है कि केंद्र सरकार दिल्ली विधानसभा को संवैधानिक जनादेश के अनुसार काम करने से रोकने के लिए हर तरह की कोशिशें कर रही है।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली विधानसभा को 34 सवालों के उत्तर अभी तक नही मिले हैं और दिल्ली में जनता के अधिकारों को छीना जा रहा है। विधानसभा में अगर जनता की समस्याओं को नहीं उठाएंगे तो कहां पर चर्चा होगी। विधानसभा के उत्तर नहीं देना, चुने हुए प्रतिनिधियों के उत्तर नही देना संविधान के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि कोर्ट ने भी विधानसभा के अधिकारों के बारे में कई स्पष्ट आदेश दिए हैं लेकिन उसके बाद भी केंद्र सरकार की अधिकारों को छीनने की कोशिशें समझ से परे हैं।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.