हाइलाइट्स:

  • दिल्‍ली में अगले साल होने हैं नगर निगम के चुनाव
  • नेताओं के दल बदलने का सिलसिला हुआ शुरू
  • कांग्रेस छोड़कर बीजेपी के साथ गईं प्रवीणा शर्मा
  • बीजेपी और कांग्रेस के नेता AAP में हो चुके शामिल

नई दिल्ली
अगले साल दिल्ली में होने वाले तीनों नगर निगमों के चुनावों से पहले नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला शुरू हो चुका है। पिछले दिनों ईस्ट एमसीडी में बीजेपी के वरिष्ठ नेता रहे राजकुमार बल्लन और कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद सुनीता यादव ने आम आदमी पार्टी जॉइन की, तो वहीं मंगलवार को प्रदेश महिला कांग्रेस की महामंत्री प्रवीणा शर्मा अपने समर्थकों और कार्यकर्ताओं के साथ बीजेपी में शामिल हो गईं। प्रदेश कार्यालय में दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता की मौजूदगी में उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर बीजेपी के वरिष्ठ पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

गुप्ता ने पार्टी का पटका पहनाकर और मिठाई खलाकर प्रवीणा का बीजेपी में स्वागत किया। प्रवीणा कुछ साल पहले प्रदेश कांग्रेस में स्टेट मीडिया कोऑर्डिनेटर भी रह चुकी हैं। उन्होंने 2017 में ईस्ट एमसीडी के अनारकली वॉर्ड से कांग्रेस के टिकट पर पार्षद का चुनाव भी लड़ा था।

बीजेपी में ही होता है सबका सम्‍मान: गुप्‍ता
आदेश गुप्ता ने कहा कि बीजेपी शुरू से ही महिलाओं को राजनीति में आने और काम करने के लिए प्रोत्साहित करती रही है, जबकि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। कांग्रेस और आप, दोनों ही पार्टियों के पास न तो साफ नीयत है और न ही मजबूत नेतृत्व है। ऐसी स्थिति में बीजेपी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है, जो सभी का सम्मान करना जानती है।

‘कांग्रेस में सम्‍मान नहीं मिला’
प्रवीणा शर्मा ने उन्हें बीजेपी में शामिल कराने के लिए आदेश गुप्ता का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले 15 सालों से मैंने कांग्रेस में विभिन्न पदों पर रहकर जनसेवा का काम किया, लेकिन उसके बावजूद पार्टी में मुझे सम्मान नहीं मिला। कोरोना काल में जिस तरह से बीजेपी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जनसेवा का काम किया, उसी से प्रभावित होकर मैंने बीजेपी में शामिल होने का फैसला किया। उन्होंने यह भी साफ कहा कि मैं किसी पद के लालच में नहीं, बल्कि काम करने के लिए बीजेपी में शामिल हुई हूं।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.