डिजिटल डेस्क, मोहाली। भीषण गर्मी के बीच पंजाब में आ रही बिजली की समस्या को लेकर लोगों में हाहाकार मची हुई है। यहां प्रति दिन बिजली की मांग 14,000 मेगावाट से अधिक हो गई है, जिसके कारण सरकारी बिजली आपूर्तिकर्ता पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पीएसपीसीएल) को मजबूरन बिजली कटौती और उद्योगों पर पाबंदियां लगानी पड़ रही हैं। वहीं शनिवार को पंजाब के मोहाली में बिजली कटौती के खिलाफ आप कार्यकर्ताओं ने जमकर बवाल काटा और सीएम के फार्म हाउस पर विरोध प्रदर्शन किया। 

यहां आप कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर के नजदीक विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शन आउट ऑफ कंट्रोल होते देख पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर ‘वॉटर कैनन’ का इस्तेमाल किया।

बता दें कि पूरे पंजाब में लाग बिजली कटौती से परेशान हैं। रात भर बिजली गुल होने के चलते लोगों को इस भरी गर्मी में रातें और दिन गुजारनी पड़ रही हैं। ऐसे में अब इस बिजली की समस्या को लेकर विपक्ष भी लोगों के साथ सड़कों पर उतर आया है। विपक्षी पार्टियां भी इस समय बिजली की समस्या को लेकर लोगों के साथ कांग्रेस सरकार को घेरने की कोशिश कर रही हैं। 

वहीं अब कांग्रेस भी धरनों की रेस में बनी रहना चाहती है। ऐसे में उसने अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ के केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। 

वहीं अकाली दल ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस सरकार में हमेशा से ही बिजली की समस्या बनी रहती है और अब तो आलम यह है कि इस बार तो पूरी-पूरी रात के पावर कट लगाए जा रहे हैं। जिसका लोग लगातार विरोध कर रहे हैं। बावजूद इसके कांग्रेस सरकार लोगों को राहत पहुंचाने के लिए कोई काम नहीं कर रही है।

अकाली दल शहरी के सचिव सरबजीत सिंह पारस ने कहा कि देशभर में सबसे ज्यादा महंगी बिजली पंजाब में ही है और यहां पर ही बिजली की हालत ऐसी है कि लोगों को गर्मी में तड़पना पड़ रहा है। और कांग्रेस सकार सो रही है इसलिए नींद से जगाने के लिए प्रदेश पर भर में इस तरह के धरना प्रदर्शन किए जा रहे हैं ।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.