विशेष संवाददाता, नई दिल्ली
यमुनापार के कई इलाकों में तीन दिनों से चली आ रही पानी की किल्लत पर बीजेपी ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्वी दिल्ली में पानी को लेकर जो हाहाकार मचा हुआ है, उसने मुफ्त पानी मुहैया कराने के केजरीवाल सरकार के दावे की पोल खोलकर रख दी है।

हरियाणा से मिल रहा है कम पानी, दिल्ली में 23 मार्च से और बढ़ सकता है पानी का संकट
लोग 200-300 रुपये में पानी की बोतलें खरीदने को मजबूर हैं। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के विधानसभा क्षेत्र पटपड़गंज में भी पानी के लिए लोग त्राहि-त्राहि कर रहे हैं, लेकिन खुद उपमुख्यमंत्री भी लोगों को पानी मुहैया करा पाने में नाकाम साबित हुए हैं। अगर गरीब परिवारों को पानी की बोतलें खरीदने के लिए 300 रुपये खर्च करने पड़ें, तो इससे ज्यादा शर्मनाक बात और कोई नहीं हो सकती। बीजेपी ने सोशल मीडिया में एक विडियो शेयर करते हुए दावा किया कि पूर्वी दिल्ली में दुकानों पर लंबी-लंबी लाइनों में घंटों खड़े होकर लोग पानी खरीद रहे हैं, मगर जल बोर्ड ने टैंकरों से पानी भिजवाने की भी कोई व्यवस्था नहीं की।

बोतल-बाल्टियां लेकर भटकते रहे लोग, बोतल बंद पानी के दाम भी पहुंचे आसमान पर
दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि यह हाल तब है, जब अभी दिल्ली में गर्मी ने पूरी तरह दस्तक भी नहीं दी है। अगर गर्मियों की शुरुआत में ही स्थिति इतनी भयानक है, तो गर्मी आने पर जो स्थिति होगी, उसकी कल्पना करने में भी डर लगता है। यह सब सिर्फ केजरीवाल सरकार की लापरवाही का नतीजा है, लेकिन इतना सबकुछ होने के बाद भी जल बोर्ड सिर्फ मूकदर्शक बनकर खड़ा है और केजरीवाल सरकार सोई है। सच्चाई यह है कि मुफ्त के नाम पर लोगों को झूठी तसल्ली के अलावा और कुछ नहीं मिला है।

मरमम्त में लगे 3 दिन, ईस्ट दिल्ली में आज से सामान्य होगी पानी की सप्लाई
आदेश गुप्ता ने डीजेबी के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा और सीएम से सवाल करते हुए कहा कि जिन जगहों पर जल बोर्ड द्वारा पानी सप्लाई किया जाता है, वहां पानी इतना गंदा और बदबूदार आ रहा है कि लोग नाक बंद करके उस पानी को पीने के लिए मजबूर हैं। प्रदेश के 30 प्रतिशत क्षेत्र में पानी उपलब्ध ही नहीं है और लगभग 1600 कॉलोनियों में सीवर लाइन नहीं है।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.