विस, नई दिल्ली: दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा है कि पूर्वी दिल्ली में 48 घंटे से अधिक समय से पानी को लेकर मचे हाहाकार को लेकर दिल्ली जल बोर्ड जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि जल बोर्ड ने शनिवार व रविवार के छुट्टी वाले दिन को रिपेयर व मेंटनेंस के काम के लिए चुना, जबकि इस दिन पानी की जरूरत सबसे अधिक होती है।

हरियाणा से मिल रहा है कम पानी, दिल्ली में 23 मार्च से और बढ़ सकता है पानी का संकट
दिल्ली जलबोर्ड ने 11 मार्च को बयान जारी कर जनता को बताया कि शुक्रवार-शनिवार को 24 घंटे पानी की समस्या होगी। अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने बड़े स्तर पर सूचना तक नहीं भिजवाई। जिन लोगों तक सूचना पहुंची, उन्होंने पानी जमा किया। अधिकांश लोग पानी जमा नहीं कर पाए। कांग्रेस नेता ने कहा कि शनिवार को तो लोगों ने किसी प्रकार से अपनी जरूरतों को पूरा किया, लेकिन रविवार को त्राहिमाम वाली स्थिति हो गई। बूंद-बूंद पानी के लिए लोग तरस रहे थे। सरकार द्वारा इस आपात स्थिति का सामना करने के लिए कोई तैयारी नहीं की गई।

बोतल-बाल्टियां लेकर भटकते रहे लोग, बोतल बंद पानी के दाम भी पहुंचे आसमान पर

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.