हाइलाइट्स:

  • आप बोली-एमसीडी चुनाव जीतने पर दिल्ली को बनाएंगे वर्ल्डक्लास
  • आप नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि पार्टी नगर निगमों में भ्रष्टाचार पर लगाम लगाएगी
  • पाठक बोल- दिल्ली को स्वच्छ बनाने पर होगा हमारी पार्टी का जोर

नई दिल्ली
आम आदमी पार्टी (आप) के नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि अगर उनकी पार्टी अगले साल होने वाले दिल्ली नगर निगम में जीत दर्ज करती है तो वह राष्ट्रीय राजधानी को स्वच्छ और विश्व स्तर का शहर बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगी। दिल्ली नगर निगम के उपचुनाव में जीत दर्ज करने के बाद अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी अब नगर निकाय पर काबिज होने के लिए ध्यान केंद्रित कर रही है।

नगर निगम के पार्टी प्रभारी पाठक ने कहा कि जमीन पर यह भावना है कि अरविंद केजरीवाल सरकार को नगर निगमों में मौका दिया जाना चाहिए। दिल्ली नगर निगम के वर्ष 2022 में चुनाव होने हैं। पाठक ने कहा, ‘नगर निगमों का मुख्य काम दिल्ली को स्वच्छ रखना है लेकिन भाजपा के शासन में राष्ट्रीय राजधानी गंदी है। ऐसे में हमारा पहला काम दिल्ली को स्वच्छ बनाना होगा। स्थानीय निकाय नीतियों को लागू करने में अहम भूमिका निभाते हैं इसलिए अगर ‘आप’ सरकार आती है तो हम दिल्ली को विश्व स्तर का शहर बनाने में सफल होंगे।’

उन्होंने कहा कि पार्टी नगर निगमों में भ्रष्टाचार कम करेगी। उप चुनाव के नतीजों का संदर्भ देते हुए पाठक ने कहा कि आप ने भाजपा का गढ़ मानी जाने वाली सीटों और अन्य पर भी उपचुनाव जीते हैं, आप के जीत का अंतर बढ़ा है। पाठक ने कहा, ‘हमें जमीन से संदेश मिल रहा है कि अरविंद केजरीवाल सरकार को नगर निगमों में भी मौका मिलना चाहिए।’ 28 फरवरी को दिल्ली नगर निगम की पांच सीटों पर हुए उपचुनाव में चार सीटों पर आप को जीत मिली थी।

आप के पक्ष में काम करने वाले तथ्यों के बारे में बात करते हुए पाठक ने कहा कि नगर निगम में सत्ता विरोधी भावना होने के साथ-साथ लोग आप के कार्यों से भी प्रभावित हुए हैं। उन्होंने कहा, ‘आप सरकार द्वारा स्वास्थ्य एवं शिक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में किए गए काम को देखते हुए लोगों का मानना है कि अगर नगर निगम में भी आप की सरकार आई तो दिल्ली का विकास होगा।’

आप का गढ़ माने जाने वाले चौहान बांगर सीट पर उपचुनाव हारने के सवाल पर पाठक ने कहा कि उप चुनाव में स्थानीय मुद्दे भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। कांग्रेस नेता चौधरी मतीन के बेटे ने चौहान बांगर से चुनाव लड़ा था और इलाके में उनका प्रभाव माना जाता है। आप नेता के मुताबिक मतीन को इससे पहले कई चुनाव में हार मिली थी, संभवत: इसकी वजह से भी उनके बेटे चौधरी जुबैर अहमद को लोगों की सहानुभूति मिली।

पाठक ने कहा, ‘कांग्रेस की बाकी सीटों पर जमानत जब्त हो गई। मुझे भरोसा है कि अगली बार आप चौहान बांगर सीट पर भी जीत दर्ज करेगी।’ उन्होंने कहा कि लोगों को आप के शासन मॉडल पर भरोसा है और वे अगामी चुनाव में भाजपा को सत्ता से बाहर कर देंगे।

उल्लेखनीय है कि भाजपा का वर्ष 2007 से ही दिल्ली के नगर निगमों पर कब्जा है। वर्ष 2017 के चुनाव में भाजपा ने तीनों नगर निगमों (उत्तरी दिल्ली नगर निगम, पूर्वी दिल्ली नगर निगम और दक्षिण दिल्ली नगर निगम)के 272 वार्डों में से 184 पर जीत दर्ज की थी।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.