विशेष संवाददाता, नई दिल्ली
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार के वैक्सीनेशन अभियान पर सवाल उठाते हुए कहा है कि यह दुनिया का सबसे लंबा और अव्यवस्थित वैक्सीन अभियान बन गया है। केंद्र को विदेशों से सीख लेनी चाहिए और कोरोना से बचाव के लिए सारे देश के लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाने का इंतजाम करना चाहिए। सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर देश में कछुए की चाल से चल रहे कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम पर कई सवाल उठाए। उन्होंने केंद्र सरकार और बीजेपी पर हमलावर रुख अपनाते हुए कहा कि देश में वैक्सीन तो नहीं है लेकिन केंद्र सरकार और बीजेपी वैक्सीन को लेकर विज्ञापन में बड़े-बड़े दावे कर रही है।

दिल्ली में 3 करोड़ की जगह मिली केवल 57 लाख डोज, भारत में चल रहा दुनिया का सबसे खराब वैक्सीनेशन अभियान: सिसोदिया
उपमुख्यमंत्री ने आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र दिल्ली को नियमित वैक्सीन की आपूर्ति नहीं कर पा रही लेकिन केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली के अधिकारियों को टूलकिट भेज उन पर ‘धन्यवाद मोदीजी’ का विज्ञापन छपवाने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस समय लोगों को वैक्सीन की जरूरत है। सिसोदिया ने प्रधानमंत्री से अपील करते हुए कहा कि यदि 2 महीने के भीतर केंद्र सरकार दिल्ली के हिस्से की 2.30 करोड़ वैक्सीन उपलब्ध करवा देती है तो दिल्ली सरकार का वादा है कि पूरी दिल्ली में धन्यवाद मोदी जी के विज्ञापन लगा देंगे।

सिसोदिया ने केंद्र पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जिस वैक्सीन कार्यक्रम को विश्व के सबसे बड़े फ्री वैक्सीन कार्यक्रम का दर्जा दे रहे है, वो बड़ा हो न हो विश्व का सबसे लंबा और सबसे अव्यवस्थित वैक्सीन कार्यक्रम ज़रूर बन चुका है। उन्होंने कहा कि दिल्ली को 2.94 करोड़ वैक्सीन की ज़रूरत थी लेकिन दिल्ली को अबतक सिर्फ 57 लाख वैक्सीन दी है, जिसमें दिल्ली सरकार द्वारा खरीदी गई वैक्सीन भी शामिल है। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली को अभी 2.30 करोड़ वैक्सीन की जरूरत है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि केंद्र सरकार अगर दिल्ली को वैक्सीन उपलब्ध करवा दे तो 3 महीने के भीतर पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगाई जा सकती है। लेकिन केंद्र सरकार जुलाई के महीने में केवल 15 लाख वैक्सीन ही दे रही है और अगर इसी गति से वैक्सीनेशन चलता रहा तो पूरी दिल्ली का वैक्सीनेशन करने में 15-16 महीने लग जाएंगे।

दिल्ली : आज से 18+ वाले भी सेंटर पर पहुंच कर करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन, 50% डोज रहेंगी रिजर्व
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में अभी वैक्सीन संकट है और वैक्सीन की कमी है क्योंकि केंद्र सरकार ने पहले इमेज मैनेजमेंट करने के लिए वैक्सीन बाहर भेज दी उसके बाद राज्यों को बोला कि ग्लोबल टेंडर कर लो और अब अचानक बोल रही है कि केंद्र सरकार सबको 21 जून से फ्री वैक्सीन उपलब्ध करवाएगी। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली को 21 जून के बाद जून में सरकार की ओर से कोई वैक्सीन नहीं मिलने वाली है साथ ही जुलाई में दिल्ली को केवल 15 लाख वैक्सीन ही दी जाएगी। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र को विदेशों से सीख लेनी चाहिए और पूरे देश मे तेज गति से वैक्सीनेशन होना चाहिए।

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.