विस, नई दिल्ली
केंद्र में मोदी सरकार के 7 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में रविवार को पार्टी के ‘सेवा ही संगठन’ संकल्प के तहत पूर्वी दिल्ली के गीता कॉलोनी इलाके में एक खास कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा भी विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए। इस दौरान नड्डा ने जहां कोरोना काल में दिल्ली समेत देशभर में बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए जन सेवा कार्यों की सराहना की, तो वहीं दूसरी ओर विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि इस दौरान सभी विपक्षी दलों के नेता, सांसद और विधायक अपने-अपने घरों में बंद रहे। इस कार्यक्रम में दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता, ईस्ट दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर और प्रदेश के महामंत्री हर्ष मल्होत्रा समेत कई अन्य पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए।

एक हफ्ता पूरा, अभी तक युवाओं का वैक्सीनेशन बंद
अपने संबोधन में नड्डा ने कहा कि कोरोना के संकट को देखते हुए इस साल हमने कोई रंगारंग कार्यक्रम नहीं रखा है, बल्कि सेवा ही संगठन-2 के माध्यम से देश के एक लाख से ज्यादा गांवों में पार्टी के कार्यकर्ता जरूरतमंदों को भोजन पहुंचाने, दवाइयां और राशन किट देने, कोरोना टेस्ट कराने जैसे अभियानों में जुटे हैं। हमारे कार्यकर्ता देशभर में 3 दिनों के अंदर 50 हजार यूनिट भी रक्तदान करेंगे।

नड्डा ने कोरोना काल में किसानों और गरीबों के हित में की गई घोषणाओं और योजनाओं की सराहना करते हुए कहा कि पार्टी ने फैसला किया है कि सभी मंत्री, सांसद और विधायक अपने-अपने क्षेत्र के दो-दो गांवों में जन सेवा का कार्य करेंगे। नड्डा ने वैक्सीन को लेकर विपक्ष के हमलों का जवाब देते हुए कहा कि संकट काल में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैक्सीन बनाने वाले वैज्ञानिकों और डॉक्टरों को प्रोत्साहित करने में जुटे हुए थे, तब सारा विपक्ष उन पर प्रश्न चिन्ह लगा रहा था। विपक्ष ने ‘मोदी की वैक्सीन’ और ‘भाजपा की वैक्सीन’ जैसी संज्ञा देते हुए वैक्सीन के परीक्षणों पर भी सवाल उठाए। आज भी विपक्ष वैक्सीन को लेकर मुद्दा बनाने में लगा हुआ है। केंद्र ने सभी के वैक्सीनेशन को सुनिश्चित करने के लिए कई कंपनियों को वैक्सीन बनाने का लाइसेंस दे दिया है और अक्टूबर से लेकर दिसंबर तक हम ऐसी स्थिति में होंगे कि सभी नागरिकों का वैक्सीनेशन हो जाए।

Vaccination in Delhi: अस्पतालों में सुविधा के हिसाब से वैक्सीन के अलग-अलग दाम
नड्डा ने दिल्ली सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा कि यहां दिल्ली में एक ऐसा वर्ग है, जो अपने आप को हर क्षेत्र में बेहतर मानता और बताता है, लेकिन जब संकट काल आया तो इनके बेहतरीन मोहल्ला क्लीनिक और अच्छे प्रशासन के दावे हवा हो गए। ऐसी ताकतें सिर्फ विरोध के नाम पर जीतती हैं और जरूरत पड़ने पर जनता के हित में काम करने के बजाय हाथ खड़े करके सारी जिम्मेदारी केंद्र सरकार पर छोड़कर भाग खड़ी होती हैं।

नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली में सबसे अधिक लोगों को लग चुकी है वैक्सीन
गौतम गंभीर ने कहा कि मुश्किल हालात में ही व्यक्ति और संगठन की पहचान होती है। इस संकट काल में भी जो लोग राजनीति करने में जुटे हैं, यह उनकी भावना को दर्शाता है। आने वाला समय संकटों से भरा हो सकता है और हमें उसी के अनुरूप एकजुट होकर जन सेवा करनी होगी। वहीं आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार इस संकट से निपटने में पूरी तरह विफल साबित हुई है। जब सरकार अपनी जिम्मेदारियों से भाग खड़ी हुई, तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने लाखों लोगों तक भोजन और राशन किट बांटने, दवाइयां और इलाज के उपकरण पहुंचाने का काम किया।

मोदी सरकार की सातवीं सालगिरह पर जनसेवा कार्यक्रमों का आयोजन
केंद्र में मोदी सरकार के 7 साल पूरे होने के अवसर पर दिल्ली बीजेपी ने रविवार को सेवा ही संगठन पार्ट-2 के तहत जनसेवा से जुड़े कई कार्यक्रमों का आयोजन किया। इन कार्यक्रमों में बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और दिल्ली के प्रभारी बैजयंत जय पांडा, राष्ट्रीय मंत्री और प्रदेश सह-प्रभारी डॉ. अलका गुर्जर और प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता समेत पार्टी के तमाम सांसदों, विधायकों व अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।

इस दौरान अलग-अलग जगहों पर कैंप लगाकर लोगों को राशन के किट, पका हुआ खाना, चिकित्सा उपकरण और अन्य राहत सामग्री बांटी गई। दिल्ली के 13,760 से ज्यादा मतदान केंद्रों पर यह अभियान चलाया गया। इस दौरान पार्टी के युवा मोर्चे और किसान मोर्चे के कार्यकर्ताओं ने विभिन्न अस्पतालों के सहयोग से रक्तदान शिविरों का आयोजन करके 500 यूनिट से ज्यादा रक्तदान भी किया।

अक्टूबर-दिसंबर तक सभी लोगों का हो जाएगा वैक्सीनेशन: नड्डा

अक्टूबर-दिसंबर तक सभी लोगों का हो जाएगा वैक्सीनेशन: नड्डा

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.