हाइलाइट्स:

  • इसी हफ्ते एलजी से तारीख पास होते ही जारी होगा नोटिफिकेशन
  • इस बार गुरुद्वारा कमिटी के चुनाव 46 सीटों की जगह 45 सीटों पर होंगे
  • खुरेजी खास सीट पर एक प्रत्याशी की मौत के बाद इस सीट पर चुनाव रद्द
  • तीनों प्रमुख दलों के कई उम्मीदवार सोशल मीडिया पर सक्रिय हो गए हैं

नई दिल्ली: कोरोना के मामले कंट्रोल में आने के बाद अब एक बार फिर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी के आम चुनाव में उतरे उम्मीदवार एक्टिव हो गए हैं। ज्यादातर ने अपने-अपने इलाकों में सभाओं का दौर शुरू कर दिया है और सोशल मीडिया पर भी पोस्टरों की बाढ़ आ गई है। सूत्रों के मुताबिक, 18 जुलाई को वोटिंग हो सकती है और 21 जुलाई को नतीजे घोषित किए जा सकते हैं। इस बाबत दिल्ली सरकार ने तैयारियां तेज कर दी हैं और एलजी अनिल बैजल के पास फाइल पहुंच गई है। सूत्रों के मुताबिक, इसी हफ्ते एलजी के साइन होते ही गुरुद्वारा निदेशालय नोटिफिकेशन जारी कर देगा।

पार्क में अभी बना रहेगा स्वर्ण मंदिर का प्रतिरूप
शिरोमणि अकाली दल (बादल) के वॉर्ड नंबर-42 दिलशाद गार्डन सीट से उम्मीदवार बलबीर सिंह ने रविवार को राम नगर (शाहदरा) में सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पार्टी के विजन और किए हुए कामों के बारे में बताया। बलबीर सिंह ने कहा कि चुनावी सरगर्मियां बढ़ गई हैं। ऐसे में प्रचार दोबारा शुरू हो गया है। सिंह ने कहा कि हम लोग अपने पॉजिटिव एजेंडा के साथ मैदान में उतरे हैं और उम्मीद है कि संगत एक बार फिर हमें मौका देगी। बलबीर सिंह ने कहा कि इतिहास में पहली बार है जब विपक्षी दल गुपचुप एलायंस कर चुनाव लड़ रहे हैं और हाल यह है कि दोनों प्रमुख दलों के पास पूरी 46 सीटों पर उम्मीदवार ही नहीं मिले। वहीं, सरना दल और जागो के कुछ उम्मीदवारों ने भी जनसंपर्क शुरू कर दिया है। तीनों दलों के कई उम्मीदवार स्ट्रैटिजी के मुताबिक सोशल मीडिया पर सक्रिय हो गए हैं और कोरोना की दूसरी लहर में किए गए कामों को पोस्टरों के जरिए जनता तक पहुंचा रहे हैं।

Delhi News: वाह! गुरुद्वारा कमिटी दान में मिले सोने-चांदी से बनाएगी कोविड अस्पताल
वहीं, गुरुद्वारा निदेशालय से मिली जानकारी के मुताबिक, इस बार गुरुद्वारा कमिटी के चुनाव 46 सीटों की जगह 45 सीटों पर होंगे। ऐसा इसलिए, क्योंकि खुरेजी खास सीट पर सरना दल के प्रत्याशी की मौत हो गई है, जिसके चलते इस सीट पर चुनाव रद्द कर दिए गए हैं। बता दें कि इससे पहले गुरुद्वारा कमिटी के चुनाव 25 अप्रैल को होने थे, लेकिन दिल्ली में कोरोना ने जिस तरह कहर मचाया, उसे देखते हुए 21 अप्रैल को एलजी ने चुनाव टाल दिए थे।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.