विशेष संवाददाता, नई दिल्ली
सर्दियों में प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए दिल्ली सरकार ने पर्यावरण विभाग को विंटर एक्शन प्लान बनाने का आदेश दिया है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने की समस्या के समाधान और केजरीवाल सरकार द्वारा उठाए गए कदमों को लेकर वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग और केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से मुलाकात करेंगे। यह मांग की जाएगी कि सभी राज्यों के लिए एक संयुक्त कार्य योजना बनाई जाए, ताकि प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई को मजबूती से लड़ सकें।

Delhi Pollution: एक्सपर्ट ने बताया, पराली के धुएं से इस बार अधिक घुट सकता है दिल्ली का दम
पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली सरकार ने प्रदूषण के खिलाफ कई स्तर पर अभियान शुरू कर रखा है। पर्यावरण विभाग को जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। अगले हफ्ते से विंटर एक्शन प्लान तैयार करने जा रहे हैं, लेकिन उत्तर भारत के कई राज्यों में होने वाले प्रदूषण के समाधान के लिए संयुक्त अभियान बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार अपने स्तर पर हर संभव कदम उठा रही है, लेकिन अगर केंद्र सरकार के माध्यम से सभी राज्यों का सहयोग मिल जाता है तो इस लड़ाई को लड़ना आसान हो जाएगा। साथ ही दिल्ली के साथ-साथ समूचे उत्तर भारत के लोगों को प्रदूषण से मुक्ति दिलाना आसान हो जाएगा। राय ने कहा कि हमने यह फैसला लिया है कि जल्द ही केंद्र सरकार के साथ बैठक कर अपने सभी बिंदुओं को रखेंगे।

पड़ोसी राज्यों के कारण दिल्ली फिर झेलेगी पराली का प्रदूषण: सौरभ
पर्यावरण मंत्री ने कहा कि पराली को गलाने के लिए पिछले साल दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टीट्यूट के माध्यम से खेतों में बॉयो डी-कंपोजर का छिड़काव किया था और बहुत अच्छे नतीजे सामने आए थे। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश को बॉयो डी-कंपोजर को लेकर पहल शुरू कर देनी चाहिए, ताकि पराली की समस्या का समाधान हो सके।

Explained : हर सांस के साथ आपको भीतर से मार रही है जहरीली हवा, प्रदूषण का यही हाल रहा तो भारतीयों से जीवन का 9 साल तक छीन लेगा
दिल्ली के अंदर और खासकर उत्तर भारत में ठंड के मौसम में प्रदूषण की समस्या काफी बढ़ जाती है। ठंड के मौसम में प्रदूषण बढ़ने के बहुत से कारण हैं, जिसमें वाहन प्रदूषण और धूल प्रदूषण शामिल हैं। वहीं ठंड के समय प्रदूषण बढ़ने का एक बहुत ही महत्वपूर्ण कारण पराली है। पिछले कई सालों से पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण पर लगातार चर्चा हो रही है। केंद्र सरकार भी इस पर चर्चा करती रहती है, लेकिन इसका समाधान निकल कर नहीं आ रहा है। पर्यावरण मंत्री ने कहा कि दिल्ली के अंदर प्रदूषण को कम करने के लिए केजरीवाल सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है। इन सभी कार्यों को भी नेशनल कमीशन के सामने रखा जाएगा।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.