डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टूलकिट मामले में कांग्रेस ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत कई बीजेपी नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। इसे लेकर कांग्रेस ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर और एसएचओ तुगलक रोड पुलिस स्टेशन को लेटर लिखा है। लेटर में जेपी नड्डा के अलावा संबित पात्रा, स्मृति ईरानी, बीएल संतोष समेत कई अन्य नेताओं के नाम हैं।

क्या लिखा है लेटर में?
कांग्रेस ने लेटर में लिखा है, इस शिकायत के जरिए हम जेपी नड्डा, संबित पात्रा, स्मृति ईरानी, बीएल संतोष समेत बीजेपी के कई नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हैं। इन लोगों ने देश में अशांति और सांप्रदायिक अशांति फैलाने के मकसद से सोशल मीडिया के जरिए झूठी बातें फैलाई हैं। शिकायत में यह भी कहा गया है कि जेपी नड्डा के कहने पर बीजेपी नेताओं ने एक जाली और मनगढ़ंत दस्तावेज तैयार किया। इन लोगों ने एआईसीसी रिसर्च डिपार्टमेंट का लेटरहेड भी तैयार किया।

क्या है बीजेपी के आरोप?
बीजेपी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि ‘टूलकिट’ के जरिए इस संकट के वक्त में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बदनाम करने की साजिश चल रही है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी (पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष) ने महामारी को प्रधानमंत्री मोदी की छवि धूमिल करने के मौके के रूप में इस्तेमाल किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कोरोना के नये स्ट्रेन को मोदी स्ट्रेन का नाम देने का निर्देश दिया। विदेशी पत्रकारों की मदद से भारत को बदनाम करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी गई।

पात्रा ने कहा कि कोरोना का जो नया स्ट्रेन आया है और उसे विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारतीय स्ट्रेन कहने से मना कर दिया है लेकिन कांग्रेस इसे इंडियन स्ट्रेन और उससे भी आगे बढ़कर मोदी स्ट्रेन के नाम से प्रसारित करने में लगी है। उन्होंने कहा, यह बहुत ही दुखद है। कहीं न कहीं देश को पूरे विश्व में अपमानित और बदनाम करने के लिए एक वायरस को भारत के नाम, प्रधानमंत्री के नाम पर प्रतिपादित करने की चेष्टा है। मुझे लगता है यह कांग्रेस पार्टी के असली चेहरे को दर्शाता है।

राहुल गांधी ने कहा- मोदी सरकार नींद में
वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार नींद में है और उसे जागना जरूरी है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘आने वाले समय में बच्चों को कोरोना से सुरक्षित करना होगा। पीडियाट्रिक स्वास्थ्य सुविधाएँ व वैक्सीन-इलाज के प्रोटोकॉल अभी से तैयार होने चाहिए। देश के भविष्य के लिए वर्तमान मोदी ‘सिस्टम’ को नींद से जगाना ज़रूरी है।’ 

राहुल ने कहा, मोदी ‘सिस्टम’ में जितनी आसानी से सवाल उठाने वालों की गिरफ़्तारी होती है, उतनी आसानी से वैक्सीन मिलती तो देश आज इस दर्दनाक स्थिति में ना होता। कोरोना रोको, जनता के सवाल नहीं!

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.