डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोना महामारी के चलते जो हालात वर्तमान में बने हैं, उस पर राजनीतिक घमासान भी देखने को मिल रहा है। ताजा मामला झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा पीएम मोदी पर कसे गए तंज का है। उनके एक तरफा संवाद के तंज के बाद सियासत गर्मा गई। जिसको लेकर भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्र सरकार में मंत्री समेत कई बड़े नेता अब सोशल मीडिया पर हेमंत सोरेन को जवाब देने में लग गए हैं।

बता दें कि हेमंत सोरेन ने गुरुवार की रात एक ट्वीट कर कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें कॉल किया था। साथ में उन्होंने तंज कसते हुए यह भी लिखा कि, ‘पीएम मोदी ने बस अपने मन की बात की, काम की बात नहीं की और न सुनी।

मुख्यमंत्री सोरेन के इस ट्वीट के बाद, असम बीजेपी के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने हमला बोला। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘आपका यह ट्वीट न सिर्फ न्यूनतम मर्यादा के खिलाफ है बल्कि उस राज्य की जनता की पीड़ा का भी मजाक उड़ाना है जिनका हाल जानने के लिए माननीय प्रधानमंत्री जी ने फोन किया था। बहुत ओछी हरकत कर दी आपने। मुख्यमंत्री पद की गरिमा भी गिरा दी।

वहीं झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड में नेता प्रतिपक्ष बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट कर उनके इस ट्वीट की आलोचना की है। उन्होंने लिखा, ‘हेमंत सोरेन एक फेल मुख्यमंत्री हैं। गवर्नेंस में फेल हैं। कोविड से लड़ने में फेल हैं। लोगों की मदद करने में फेल हैं। अपनी असफलता छिपाने के लिए वो अपने ही ऑफिस की मर्यादा कम कर रहे हैं। जाग जाइए और काम करिए, मिस्टर सोरेन, घड़ी की सुई टिक-टिक कर रही है।’

सोरेन के ट्वीट पर नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफी रियो ने लिखा कि मुख्यमंत्री के रूप में मेरे कई वर्षों के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के प्रति काफी संवेदनशील रहे हैं। मैं हेमंत सोरेन के इस बयान को पूरी तरह खारिज करता हूं।

केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने हेमंत सोरेन को जवाब देते हुए लिखा, ‘कृपया संवैधानिक पदों की गरिमा को इस निम्न स्तर तक न ले जाएं। महामारी के इस कठिन समय में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए, हम एक टीम इंडिया हैं।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.