नयी दिल्ली, 23 जून (भाषा) दिल्ली भाजपा के व्हाट्सएप समूह से तेजिंदर पाल सिंह बग्गा और नेहा शालिनी दुआ सहित कुछ पार्टी प्रवक्ताओं को हटाए जाने के बाद पार्टी नेताओं के एक धड़े में कलह पैदा हो गई है। यह जानकारी सूत्रों ने दी।

दिल्ली भाजपा की मीडिया टीम के प्रमुख नवीन कुमार ने दावा किया कि सब कुछ ठीक है और पार्टी में मतभेद या कलह नहीं है।

कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘कुछ लोगों ने फोन बदल लिए होंगे या किसी अन्य कारण से कुछ नाम हट गए होंगे।’’

भारतीय जनता पार्टी में प्रख्यात चेहरा और सोशल मीडिया मंचों पर सक्रिय रहने वाले बग्गा को दो व्हाट्सएप समूहों से पिछले शनिवार को हटा दिया गया। इन समूहों में मुख्यत: पार्टी की मीडिया टीम के सदस्य हैं।

भाजपा के एक नेता ने कहा, ‘‘बहरहाल उन्हें मंगलवार को वापस समूह में जोड़ लिया गया लेकिन उन्होंने खुद ही समूह छोड़ दिया।’’

इसके बाद बग्गा ने अपने ट्विटर पर से ‘‘भाजपा प्रवक्ता’’ शब्द भी हटा लिया। संपर्क करने पर बग्गा ने कहा, ‘‘कोई टिप्पणी नहीं, पार्टी नेताओं से बात कीजिए।’’

यही मामला पार्टी के एक अन्य नेता हरीश खुराना के साथ हुआ। दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदनलाल खुराना के पुत्र हरीश पदाधिकारियों की नियुक्ति में उनकी ‘‘वरीयता’’ को नजरअंदाज करने के बाद करीब एक महीने पहले दिल्ली भाजपा की मीडिया टीम के व्हाट्सएप समूहों से हट गए थे।

खुराना से संपर्क नहीं हो सका। कुछ महत्वपूर्ण पद दिए जाने की उनकी इच्छा को नजरअंदाज करने के बाद उन्होंने भाजपा प्रवक्ता पद से इस्तीफा देने की धमकी दी थी। बाद में दिल्ली भाजपा के नेताओं ने उन्हें मनाया और उन्हें पार्टी में मीडिया संबंधों के प्रमुख का पद दिया गया।

दिल्ली भाजपा के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि पार्टी के अंदर कई मुद्दे हैं जिनका समाधान किया जाना है और इनके कारण पार्टी नेताओं के एक धड़े में ‘‘असहजता’’ दिख रही है।

दिल्ली भाजपा की मीडिया टीम में कुछ समय पहले शामिल हुईं दुआ को इस महीने की शुरुआत में व्हाट्सएप समूहों से हटा दिया गया था। सूत्रों ने बताया कि पिछले शनिवार को उन्हें फिर से जोड़ा गया।

दिल्ली भाजपा की मीडिया टीम में 25 से अधिक प्रवक्ता हैं। इतनी बड़ी टीम होने से उनमें से हर किसी को नोटिस किया जाने का सीमित अवसर होता है।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.