नई दिल्ली
दिल्ली सरकार की मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को लेकर बीजेपी ने कुछ सवाल खड़े किए हैं। बजट में पेश आंकड़ों का हवाला देते हुए बीजेपी ने दिल्ली सरकार की योजना को छलावा करार देते हुए पूछा कि इस योजना में अयोध्या समेत कुछ नए तीर्थ स्थलों को शामिल करने की घोषणा के बावजूद इसके लिए पिछले चार साल में सबसे कम बजट क्यों आवंटित किया गया।

शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दिल्ली बीजेपी के उपाध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा और पार्टी प्रवक्ता हरीश खुराना ने योजना को लेकर दिल्ली सरकार पर हमला बोला। वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि पिछले साल दिल्लीवालों को दिल्ली के ऐतिहासिक स्थान दिखाने के लिए केजरीवाल सरकार ने ‘दिल्ली दर्शन’ नाम से एक अन्य योजना की भी शुरुआत की थी, जिसके लिए बजट में 10 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था। उसमें से एक रुपया भी इस योजना पर खर्च नहीं किया गया और इस साल ‘दिल्ली दर्शन’ योजना ही खत्म कर दी गई। वहीं हरीश खुराना ने कहा कि मतदाताओं को लुभाने के लिए दो साल पहले तीर्थ यात्रा योजना लाई गई, मगर दिसंबर 2019 के बाद से ही यह योजना ठप पड़ी है। खुराना ने कहा कि दिल्लीवाले भूले नही हैं कि कैसे केजरीवाल सरकार ने निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से यात्रियों के जत्थे को दक्षिण भारत में तीर्थाटन के लिए रवाना किया था, पर सही बुकिंग नहीं किए जाने से यात्रियों को मथुरा में ही ट्रेन से उतरना पड़ा। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ऐसे प्रचार करती है, मानों वह अब तक लाखों लोगों को तीर्थ यात्रा करवा चुकी हो, जबकि 2019 में केवल 38,828 लोग ही मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना से लाभान्वित हुए। 2018-19 में इस योजना के लिए बजट में 53 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे, लेकिन खर्च केवल 8.15 करोड़ रुपये किए गए। 2019-20 में 81.50 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया, लेकिन खर्च पहले के मुकाबले और कम केवल 4.54 करोड़ रुपये ही हुए। वर्ष 2020-21 में तो 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए, लेकिन एक रुपया भी खर्च नहीं हुआ। अचंभा यह है कि सरकार अयोध्या समेत कुछ नए तीर्थ स्थलों को इस योजना में जोड़ने की बात कर रही है, मगर 2021-22 के बजट में इस योजना के लिए बजट घटा दिया गया है और मात्र 15 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं, जो पिछले 4 साल में सबसे कम हैं। बीजेपी ने कहा कि यूपी, उत्तराखंड और गुजरात में विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख अरविंद केजरीवाल को श्रीराम याद आए हैं।

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.