Dainik Bhaskar Hindi – bhaskarhindi.com, न्यूयॉर्क। शोधकर्ताओं के एक दल ने 62 लाख रोगियों के स्वास्थ्य रिकॉर्ड को मिलाकर ऐसा कोई गंभीर स्वास्थ्य प्रभाव नहीं पाया है, जिसे फाइजर-बायोएनटेक और मॉडर्ना एमआरएनए कोविड-19 टीकों से जोड़ा जा सके। जामा जर्नल में प्रकाशित अध्ययन से संकेत मिलता है कि एमआरएनए कोविड-19 टीके 23 गंभीर प्रतिकूल घटनाओं की उच्च दर से जुड़े नहीं पाए

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News

Source link

Bulandaawaj
Author: Bulandaawaj

Leave a Reply

Your email address will not be published.